वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार सिंह द्वारा पुलिस लाइन बहुउद्देशीय हाॅल में अपराध समीक्षा

एटा-

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार सिंह द्वारा पुलिस लाइन बहुउद्देशीय हाॅल में अपराध समीक्षा/सैनिक सम्मेलन की बैठक की गयी जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक एटा संजय कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक अपराध राहुल कुमार, समस्त क्षेत्राधिकारीगण, समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष/थानाप्रभारी व अन्य पुलिसकर्मी उपस्थित रहे।
पुलिस अधि0/कर्मचारीगण द्वारा पूर्व में उठायी गयी समस्याओं के निस्तारण हेतु समीक्षा कर सम्बधित को उनके निस्तारण हेतु निर्देशित किया गया।
पुलिस महानिदेशक द्वारा प्रदेश भर में नये सिरे से शुरू की जा रही बीट पुलिसिंग पर जोर देते हुए एसएसपी एटा द्वारा सभी क्षेत्राधिकारियों को प्रभावी कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही सभी थानाध्यक्ष अपने-अपने थानाक्षेत्र के बीट के सिपाहियों के आंकलन व उनकी बीट संबंधी जिम्मेदारियों को पूर्व से ही तय कर बीट सिस्टम प्रभावी कर लें।
5-साला अपराधियों तथा जनपद में बार्डर के थानों के लूट, डकैती व नकबजन के अभियुक्तों का सत्यापन व त्रिनेत्र एप से मिलान किये जाने हेतु निर्देशित किया गया है।
सभी अपर पुलिस अधीक्षक एवं क्षेत्राधिकारी अपने अधीनस्थों को गाईड करें, क्षेत्राधिकारी स्वयं क्षेत्र में निकले ड्यिूटीरत अधीनस्थों को चैक करें, उनकी किसी भी समस्या को संज्ञान लेते हुये उसका तत्काल निराकरण करायें।
अवैध शराब भट्टी तथा अवैध शस्त्र फैक्ट्री में गिरफ्तार अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही की जाये। अपराधियों के विरुद्ध समय से प्रभावी कार्यवाही की जाये जिससे जनता में पुलिस की छवि अच्छी बने।
लम्बित विवेचनाओं के शीघ्र व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण तथा वाॅछित/वारण्टी अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी की जाये।
जनशिकायती प्रार्थना पत्र, आईजीआरएस प्रकरण, थाना समाधान दिवस तथा तहसील समाधान दिवस आदि में प्राप्त प्रकरणों का गुणवत्तापूर्वक निस्तारण समय से सुनिश्चित किया जायें। साथ ही सभी क्षेत्राधिकारीरियों द्वारा अपने सर्किल के थानों पर प्राप्त प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की गुणवत्ता की रैडिम चैकिंग की जाए। सभी थानाध्यक्ष पीड़ित/ आवेदक से स्वयं वार्ता कर उनकी समस्या के निस्तारण के संबंध में जानकारी करें। साथ ही भूमि विवाद संम्बन्धी शिकायतों के निस्तारण हेतु बनाए गए थाना समाधान दिवस के एटा मॉडल के अनरूप प्रभावी निस्तारण कराएं। सभी अधिकारी व कर्मचारी अपना व्यवहार उच्च कोटि का रखें। नियमानुसार वर्दी धारण करें, मीडियाकर्मियों से सौम्यता एवं शालीनता से बात की जाए। द्रुव्यवहार की शिकायत पर दोषी कर्मियों के विरुद्ध कड़ी अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।
गोष्ठी के अन्त में सभी राजपत्रित अधिकारियों से अपना पर्यवेक्षण सुदृढ़ रखते हुए उक्त बिंन्दुओं पर अधीनस्थों द्वारा की जा रही कार्यवाही का निरन्तर अनुश्रवण कर वंचित कार्यवाही समयबद्ध ढंग से पूर्ण कराने की अपील की गई।

एटा से अनेश कुमार की रिपोर्ट